Header Ads

गाँजा बरामदगी मामले में आरोपित को अर्थदंड के साथ चार वर्ष की सज़ा ..

अपने फैसले में न्यायालय ने आरोपित को चार वर्ष की सजा तथा चालीस हजार रुपये का अर्थदण्ड देने का फैसला सुनाया है. वहीं अर्थदंड नहीं देने पर छः माह की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी.

- जिला एवम सत्र न्यायधीश द्वारा सुनाया गया फ़ैसला.
- बाइक की डिक्की से गाँजा बरामदगी का है मामला.

बक्सर टॉप न्यूज़, बक्सर: वर्ष 2015 में हुई एन०डीपी०एस० के एक मामले में बड़ा फैसला सुनाते हुए जिला एवं सत्र न्यायधीश हरेन्द्र नाथ की अदालत के द्वारा एन०डीपी०एस० अधिनियम धारा 20(B),2(B) के अंतर्गत दोषी करार देते हुए सज़ा सुनाई है. 

बता दें कि मामला दिनांक 18 सितंबर 2015 को शाम साढ़े तीन बजे नावानगर थाना क्षेत्र के रूपसागर गाँव काव नदी पुल का है जहाँ बने चेकपोस्ट के पास हीरो होंडा मोटरसाइकिल BR 44 P 8051 की डिक्की में दो किलो गांजा व उन्नीस हजार रुपया के साथ शिवजी सिंह, पिता-हरेराम सिंह, ग्राम-छोटकी लहना, थाना- सिमरी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. अपने फैसले में न्यायालय ने आरोपित को चार वर्ष की सजा तथा चालीस हजार रुपये का अर्थदण्ड देने का फैसला सुनाया है. वहीं अर्थदंड नहीं देने पर छः माह की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी.

न्यायिक कार्यवाही के दौरान अभियोजन पक्ष की तरफ से अधिवक्ता सुरेन्द्र प्रसाद सिंह मौजूद रहे. वहीं बचाव पक्ष की तरफ से बबन ओझा ने मामले की पैरवी की.



- न्यायालय सवांददाता राघव पाण्डेय की रिपोर्ट














No comments