Header Ads

ट्रेन में सामान को लावारिस छोड़ना यात्री को पड़ा महंगा ..

दोनों दोस्तों की बर्थ अलग-अलग कोचों में थी. खाना खाने के लिए दोनों दोस्त एक ही जगह चले गए. इस दौरान किसी यात्री द्वारा लावारिस बैग की सूचना पुलिस को दी गई

- यात्रियों की सूचना पर आरपीएफ ने बैग को लावारिस समझ कर बक्सर में उतारा.

- दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन से वापस बक्सर पहुंचा यात्री.


बक्सर टॉप न्यूज़, बक्सर: ट्रेन में लावारिस स्थिति में सामान को छोड़ना एक रेल यात्री के लिए महंगा पड़ गया. हालांकि, आरपीएफ के जवानों के प्रयास से यात्री का सामान पुनः उसे प्राप्त हो गया. दरअसल, मुंगेर जिला के नावगांव के रेल यात्री आदित्य आर्यन, पिता-बागेश्वर सिंह अपने मित्र विकास कुमार के साथ यात्रा कर रहे थे. दोनों दोस्तों की बर्थ अलग-अलग कोचों में थी. खाना खाने के लिए दोनों दोस्त एक ही जगह चले गए. इस दौरान किसी यात्री द्वारा लावारिस बैग की सूचना पुलिस को दी गई. जिसे आरपीएफ ने बक्सर में उतार लिया. खाना खाकर आदित्य पुनः अपनी सीट पर लौटा तो अपना बैग गायब पाया. अगल-बगल के यात्रियों से पूछताछ करने का पता चला कि आरपीएफ द्वारा बक्सर में बैग उतार लिया गया है. बाद में रेलयात्री आदित्य आर्यन पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन से वापस बक्सर आए एवं पूरी बात बताई. जिसके बाद आरपीएफ पोस्ट पर मौजूद पुलिसकर्मियों द्वारा पूछताछ कर तथा उचित पहचान तथा सामानों का मिलान करते हुए उक्त ट्रॉली बैग यात्री को सौंप दिया.















No comments