Header Ads

परवल व्यवसायी के 1 लाख 35 हज़ार रुपये जप्त ..

व्यवसायी कोई भी कागजी प्रमाण प्रस्तुत नहीं कर सका. इस दौरान एसपी ने गंगा पुल पर तैनात स्टैटिक मजिस्ट्रेट को तत्काल तलब किया. जिसने सारा पैसा जब्त कर उसकी रसीद व्यवसायी को थमा दी

- एसपी ने स्वयं दिया कारवाई को अंजाम.

- आचार संहिता लगने के बाद लगा है प्रतिबंध.


बक्सर टॉप न्यूज़, बक्सर: लोकसभा चुनाव को लेकर जारी वाहन जांच के क्रम में मंगलवार की दोपहर एक व्यवसायी के पास से एक लाख तैतीस हजार रुपये जब्त किए गए हैं. जब्त किए गए नोट मुफ्फसिल थाना क्षेत्र अंतर्गत रामजिआवन गंज के एक व्यवसायी के पास से मिले हैं. जिन्हें पुलिस अधीक्षक उपेंद्रनाथ वर्मा ने खुद जांच करते पकड़ा है.

लोकसभा चुनाव को देखते हुए नगर के विभिन्न भागों में आने-जाने वालों की जांच के साथ ही सघन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. विशेष रूप से यूपी की ओर से आनेवाले लोगों पर पुलिस की विशेष निगाह जमी है. जिसको ले गंगा पुल स्थित चेकपोस्ट पर दिन रात जांच की जा रही है. घटना अपराह्न ढाई बजे की है. जब पुलिस अधीक्षक उपेंद्रनाथ वर्मा गंगा पुल के नीचे बने मार्ग से होते हुए कही जा रहे थे. तभी पुल के नीचे एक बाइक के साथ खड़ा एक संदिग्ध व्यक्ति नजर आया. जिसे देखते ही एसपी ने वाहन रोककर उससे पूछताछ के साथ ही तलाशी लेने का निर्देश दिया. उसकी पहचान मुफस्सिल थानाक्षेत्र के रामजिआवन गंज निवासी छोटक साहनी के रूप में की गई. जो खुद को परवल का व्यवसायी बताते हुए माल लेने के लिए यूपी जाने की बात बताया. तलाशी के क्रम में उसके पास से एक लाख तैतीस हजार रुपये बरामद किए गए. रुपयों के संबंध में व्यवसायी कोई भी कागजी प्रमाण प्रस्तुत नहीं कर सका. इस दौरान एसपी ने गंगा पुल पर तैनात स्टैटिक मजिस्ट्रेट को तत्काल तलब किया. जिसने सारा पैसा जब्त कर उसकी रसीद व्यवसायी को थमा दी.

बताते चलें कि देश में आचार संहिता लागू होने के बाद बगैर प्रमाण के 50 हजार से अधिक नकद राशि लेकर चलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है.














No comments