Breaking

Post Top Ad

8 Nov 2018

Buxar Top News: पुत्र की चाहत में पुत्री चढ़ने वाली थी बलि, पुलिस की तत्परता से बची जान ..

इसी बीच तकरीबन 4 दिनों पूर्व तांत्रिक ने महिला को रामरेखा घाट बुलाया जहां उसने गंगा में आंख बंद कर 15 मिनट स्नान करने की बात कही.
प्रतीकात्मक तस्वीर

- नगर थाना क्षेत्र के रामरेखा घाट से हुआ था मासूम का अपहरण.
- बच्ची की बलि चढ़ाने से पूर्व ही आरोपित तांत्रिक गिरफ्तार


बक्सर टॉप न्यूज़, बक्सर: नगर थाना क्षेत्र के रामरेखा घाट से चार दिन पूर्व अपहृत बच्ची को बिक्रमगंज से बरामद कर लिया गया है. साथ ही अपहरण करने वाले व्यक्ति को भी हिरासत में ले लिया गया है. बताया जा रहा है कि उक्त व्यक्ति बच्ची को बलि देने के लिए लेकर गया था. जिसे दीपावली की रात को बलि चढ़ाने की तैयारी थी. लेकिन पुलिसिया कार्रवाई बच्ची को सकुशल बचा लिया गया.

घटना के संदर्भ में मिली जानकारी के मुताबिक भोजपुर जिले के बिहियां थाना क्षेत्र के ओसाईगंज की रहने वाले कमलेश यादव की पत्नी शांति देवी पुत्र प्राप्ति की चाहत में पूर्व से ही स्थानीय थाना क्षेत्र के बड़की हरदिया के तांत्रिक पिंटू बाबा (45) के पास गई थी. रहने वाले एक तांत्रिक के पास झाड़-फूँक कराने के लिए जाती थी. इसी बीच धनतेरस के दिन तांत्रिक ने महिला को रामरेखा घाट बुलाया शांति देवी अपनी दो बेटियों के साथ बक्सर के रामरेखा घाट पहुँची. जहां तांत्रिक ने महिला को आँखे बंद कर 15 मिनट स्नान करने की बात कही. इसी बीच मौके का फायदा उठाकर उक्त तांत्रिक  ने अपने  एक अन्य सहयोगी की मदद से महिला की तीन वर्षीय पुत्री का अपहरण कर लिया तथा उसे लेकर बिक्रमगंज चला गया. जहाँ दीपावली की रात उसकी बलि दी जाने वाली थी .महिला ने ने मामले की जानकारी नगर थाना पुलिस को दी जिसके बाद पुलिस ने त्वरित कारवाई करते हुए बच्ची सकुशल बरामद कर लिया साथ ही साथ दोनों पैरों से चलने में असक्षम तांत्रिक को भी हिरासत में ले लिया जिसे बाद में जेल भेज दिया गया.























No comments:

Post a Comment

Post Top Ad