Breaking

Post Top Ad

10 Nov 2018

Buxar Top News: मरीज बनकर आए असामाजिक तत्वों ने चिकित्सक से की मारपीट ..

युवकों ने उन्हें घेर लिया. यहां तक की बेड पर लेटा युवा रोगी भी उठ खड़ा हुआ तथा उसने चिकित्सक के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी

- सदर अस्पताल में इलाज के बहाने पहुंचे थे 8 अज्ञात युवक.

- रात्रि ड्यूटी में कार्यरत चिकित्सक से की मारपीट.


बक्सर टॉप न्यूज़, बक्सर: सदर अस्पताल में कार्यरत चिकित्सकों की सुरक्षा इन दिनों भगवान भरोसे हो गई है. कब उनके साथ कोई अप्रिय वारदात हो जाए यह कहा नहीं जा सकता. महज कुछ सुरक्षाकर्मियों के हाथों में  अस्पताल की सुरक्षा व्यवस्था है. 

सदर अस्पताल में सुरक्षाकर्मियों की कमी का खामियाजा वहां कार्यरत चिकित्सकों को भुगतना पड़ रहा है. पिछले 1 माह पूर्व जहां रात्रि ड्यूटी के दौरान चिकित्सक डॉक्टर संजय कुमार के साथ दुर्व्यवहार की बात सामने आई थी वहीं एक बार फिर असामाजिक तत्वों द्वारा अस्पताल में रात्रि पाली में कार्यरत चिकित्सक डॉक्टर अभिषेक कुमार के साथ भी मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया है. 


मामले में अस्पताल सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार रात के तकरीबन 12 बजे आठ की संख्या में पहुंचे युवकों ने इमरजेंसी होने की बात कही. उन्होंने बताया कि उनके मरीज के मुंह से झाग आ रहा है. यह सुनते ही चिकित्सक ने तुरंत कथित रोगी को माइनर ओटी में भर्ती कराया तथा उसकी हालत को देखने के बाद जीएनएम को रोगी की साफ सफाई करने की बात कहते हुए जैसे ही वह माइनर ओटी से बाहर निकले, रोगी के साथ पहुंचे युवकों ने उन्हें घेर लिया. यहां तक की बेड पर लेटा युवा रोगी भी उठ खड़ा हुआ तथा उसने चिकित्सक के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी. बताया जा रहा है कि सभी युवक अपना चेहरा ढके हुए थे तथा इस घटना को अंजाम देने के बाद वे आराम से भाग खड़े हुए. हालांकि, अस्पताल की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें खदेड़ा लेकिन तब तक उनकी पहुंच से दूर जा चुके थे.

बता दें कि चिकित्सक से मारपीट की या कोई पहली घटना नहीं है. अस्पताल में सुरक्षाकर्मियों की कम संख्या होने का फायदा मरीज के परिजन भी उठाते हैं. पिछले दिनों रात्रि ड्यूटी में तैनात संजय कुमार से नया बाजार के रहने मरीज के परिजनों ने मारपीट की थी, जिसके बाद उन्होंने रात्रि में ड्यूटी करने से इंकार कर दिया है. इसी बीच एक माह के भीतर इस तरह की घटना सामने आई है.

मामले में अस्पताल प्रबंधक दुष्यंत सिंह ने बताया कि रात्रि 12:00 बजे कुछ युवकों द्वारा डॉक्टर अभिषेक से मारपीट की घटना सामने आई है, जिसके बाद अस्पताल अधीक्षक के द्वारा मामले में चिकित्सक के द्वारा प्राप्त आवेदन के आलोक में जिलाधिकारी को पत्र लिखकर मामले की जानकारी देते हुए आवश्यक कारवाई करने का अनुरोध किया गया है. हालांकि, घटना के कारणों का अभी तक कोई खुलासा नहीं हो सका है. माना जा रहा है कि घटना पूर्व के किसी गुस्से का नतीजा हो.






















No comments:

Post a Comment

Post Top Ad