Breaking

Post Top Ad

10 Oct 2018

Buxar Top News: महिला बंदियों ने डीएम से की माँग, पति के साथ जेल में काटने दें सज़ा ..



 प्रकाश की व्यवस्था, चहारदीवारी की ऊंचाई, नियमित गश्त,तथा शस्त्रागार की समीक्षा की. उन्होंने जेल के सीसीटीवी कैमरों को दुरुस्त करते हुए ज्यादा क्षमता का जेनरेटर लगाए जाने की बात भी कही

- डीएम ने किया सुरक्षा का निरीक्षण, दिए आवश्यक निर्देश.

-  महिला जेल में लगा बंदी दरबार.


बक्सर टॉप न्यूज, बक्सर: पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार जिलाधिकारी राघवेंद्र कुमार सिंह ने केंद्रीय कारा की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया वहीं उन्होंने महिला कारा में बंदी दरबार लगाया. केंद्रीय कारा के निरिक्षण के दौरान उनके साथ पुलिस अधीक्षक तथा अन्य अधिकारी मौजूद रहे.

सीसीटीवी शुरु करने के दिए निर्देश, बड़ा जेनरेटर लगाने की जताई आवश्यकता: 

इस दौरान उन्होंने जेल में प्रकाश की व्यवस्था, चहारदीवारी की ऊंचाई, नियमित गश्त,तथा शस्त्रागार की समीक्षा की. उन्होंने जेल के सीसीटीवी कैमरों को दुरुस्त करते हुए ज्यादा क्षमता का जेनरेटर लगाए जाने की बात भी कही.

महिला कारा में लगा बंदी दरबार:

 महिला मंडल कारा बक्सर में बंदी दरबार का आयोजन किया गया. बंदी दरबार में जिला पदाधिकारी ने बारी-बारी से सभी सी.सी.टी.वी. कैमरा के द्वारा चल रही रिकॉर्डिंग का परीक्षण किया गया. तत्पश्चात महिला मंडल कारा के दो वार्डों यथा गंगा एवं यमुना एवं शौचालय की स्थिति का निरीक्षण किया गया. गंगा वार्ड एवं कारा के शौचालयों के जर्जर स्थिति अविलंब मरम्मत करवाने का निर्देश कार्यपालक अभियंता भवन प्रमंडल बक्सर को दिया गया. नाली के जरिए पानी की निकासी ठीक ढंग से नहीं होने के कारणों को जानकर नगर परिषद बक्सर को महिला मंडल कारा के बाहर नाली की समुचित व्यवस्था करने हेतु पत्र लिखने का निर्देश दिया गया. महिला मंडल कारा में रह रही बंदी महिलाओं से बंदी दरबार में जिला पदाधिकारी महोदय ने मुलाकात की. बंदी महिलाओं से खाना दवाई बिजली आदि की सुविधा से संबंधित किसी भी तरह की परेशानी के विषय में कोई शिकायत डीएम से नहीं की गयी. कारा में प्रतिनियुक्त महिला चिकित्सक ने बताया कि बंदी महिलाओं के साथ रह रहे छोटे बच्चों को ससमय टीका भी लगवाया जाता है. 

बंदियों ने पति के साथ सज़ा काटने की जताई इच्छा: 

इस दौरान कुछेक बंदी महिलाओं ने गृह जिला स्थानांतरित किये जाने की माँग की. कईयों जिनके पति भी अन्यत्र जेल में बंदी हैं, उसी जेल में भेजने का अनुरोध किया. इस बात पर डीएम ने नियमानुसार कार्रवाई किए जाने का भरोसा दिलाया. मनोरंजन एवं खेलकूद की सुविधा हेतु कारा अधीक्षक को लुडो कैरम बोर्ड एवं बैडमिंटन की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया. बंदी दरबार के पश्चात जिलाधिकारी  ने महिला मंडल कारा के बाहरी हिस्सों का निरीक्षण किया गया. तथा चाहरदीवारी करने तथा इसके लिए एस्टीमेट बना कर उनके पास भेजे जाने का निर्देश भवन निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता को दिया.


बंदी दरबार में सिविल सर्जन, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, कार्यपालक अभियंता, भवन एवं विद्युत, प्रभारी पदाधिकारी सामान्य शाखा, कारा अधीक्षक एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित थें.




















No comments:

Post a Comment

Post Top Ad