Breaking

Post Top Ad

22 Oct 2018

Buxar Top News: अखिल भारतीय अंतरराष्ट्रीय धर्म सम्मेलन आज, देश के कोने-कोने से जुटेंगे संत-धर्माचार्य.

भक्तों की भक्ति का प्रत्यक्ष दर्शन तब हो जाता है, जब वे स्वयं नियंत्रित होकर अपनी-अपनी पंक्ति में हजारों की संख्या में यज्ञशाला की परिक्रमा करते हैं. साथ ही एक स्वर में श्री जीयर स्वामी जी महाराज का जयघोष करते हैं

- इटाढ़ी प्रखंड के कासिमपुर में आयोजित है कार्यक्रम.

- सुबह से शाम तक बह रही है भक्ति रस धारा, यज्ञ मंडप की परिक्रमा के लिए श्रद्धालुओं की लगी है भीड़


बक्सर टॉप न्यूज़, बक्सर: यज्ञनगरी कासिमपुर की धरती आज अखिल भारतीय अंतरराष्ट्रीय धर्म सम्मेलन की गवाह बनेगी. धर्म सम्मेलन में भाग लेने के लिए हजारों लोग पधार रहे हैं. तय बात है कि इस दो दिनों में यज्ञ नगरी में श्रद्धालु भक्तों की भीड़ काफी होगी. इस अध्यात्म नगरी में संतों का जमावड़ा लगेगा, इस दौरान देश के कोने-कोने से सैकड़ों की संख्या में संत व धर्माचार्य शिरक्कत करेंगे. इस अवसर पर इटाढ़ी के कासिमपुर इलाके से धर्म की गंगा बह रही है. अंतरराष्ट्रीय धर्म सम्मेलन सह श्री भाष्यकार भगवतपाद रामानुजाचार्य सहस्त्रब्दी स्मृति महामहोत्सव सह श्रीलक्ष्मीनरायण महायज्ञ के मौके पर देश के विभिन्न क्षेत्रों से पधारे ख्यातिलब्ध कथावाचकों का प्रवचन जारी है. विख्यात कथावाचक योगाचार्य आचार्य योगेश जी महाराज, आचार्य बद्रीनाथ बनमाली जी महाराज, ज्योतिषाचार्य शम्भुनाथजी महाराज, वैष्णव संदेश पर श्रीमुक्तिनाथ जी महाराज, मानव संदेश पर श्रीगोपालजी महाराज, वेदांत दर्शन पर श्रीचतुर्भजाचार्यजी महाराज, श्रीमद भागवत गीता संदेश पर आचार्य गिरिधर शास्त्री जी महाराज, श्रीरामायण संदेश पर कथा भाष्कर श्रीरत्नेश जी महाराज, भागवत पुराण पर भागवत भूषण एवं कथावाचक महारथी आचार्य पुण्डरीक शास्त्री जी महाराज, रामचरित मानस कथा एवं प्रवचन मानस मार्तण्ड कथा सम्राट आचार्य श्री किंकरजी महाराज, श्रीविष्णुपुराण का रसपान लक्ष्मणाचार्य पीठाधीश्वर सोनपुर द्वारा प्रतिदिन निर्धारित समयानुसार कथा सुबह से देर रात चल रही है.

यज्ञ मंडप की परिक्रमा के लिए श्रद्धालु है मची है होड़:

यज्ञ स्थल पर प्रख्यात कथावाचवाचकों  द्वारा पूरे दिन प्रवचन चल रहा है. जिसे सुनने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है. योग,वेदांत,ज्योतिष, गीता श्रीमद् भागवत पुराण, श्रीरामचरितमानस, पर प्रख्यात कथावाचकों द्वारा प्रवचन दिया जा रहा है. सुबह से लेकर रात तक धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन हो रहा है. जिसे देख और सुन श्रद्धालु भाव विभोर हो जा रहे हैं एवं यज्ञ मंडप की परिक्रमा के लिए श्रद्धालुओं के बीच होड़ मची है. यज्ञ में शामिल होकर श्री लक्ष्मी प्रपन्न जीयर स्वामी जी का दर्शन, पूजा-अर्चना, कथावाचकों की कथा सुनना और पुण्य प्राप्त करना. बाहर से आए श्रद्धालु पूजा-अर्चना, प्रवचन आदि के पश्चात रेवटी-पंडाल में रह रहे हैं. भक्तों की भक्ति का प्रत्यक्ष दर्शन तब हो जाता है, जब वे स्वयं नियंत्रित होकर अपनी-अपनी पंक्ति में हजारों की संख्या में यज्ञशाला की परिक्रमा करते हैं. साथ ही एक स्वर में श्री जीयर स्वामी जी महाराज का जयघोष करते हैं. श्रद्धालुओं की भीड़ को नियंत्रित करने में यज्ञसेवक सहयोगी लगे हुए हैं.





















No comments:

Post a Comment

Post Top Ad