Breaking

Post Top Ad

30 Oct 2018

Buxar Top News: देश के किसानो की खुशहाली के लिए मोदी सरकार तत्पर :विश्वजीत मालवीय

मालवीय ने बताया कि गांव व खेती के विकास के लिए इस वर्ष का बजट इस बात का गवाह है कि हमारी सरकार ने गांव,गरीब और किसान कल्याण को कितनी गंभीरता से लिया है.

- किसान इस देश का अन्नदाता है,वह अगर खुश नहीं है तो देश खुशहाल नहीं रह सकता.
- सरकार चाहती है किसान गरीबी और निरक्षरता की दलदल से निकले.

बक्सर टॉप न्यूज़,बक्सर: आज हमारे संवाददाता से बात करते हुए राष्ट्रीय युवा किसान मोर्चा कार्यकारणी समिति सदस्य विश्वजीत मालवीय ने बताया कि किसान हमेशा से हमारे देश का आधार रहे हैं और एनडीए सरकार इनोवेशन और कुछ ठोस उपायों के जरिए देश के इस आधार को मजबूत बनाने की कोशिश कर रही है.अब हम अपनी,यानी मोदी सरकार की बात करते हैं.किसान इस देश का अन्नदाता है,वह अगर खुश नहीं है तो देश खुशहाल नहीं रह सकता.हमारी सरकार ने इस बात को समझा और जब से हमारी सरकार बनी है तब से किसानों के हित में नयी–नयी बाते सुझायी जा रही हैं और उन पर पूरी तन्मयता से अमल किया जा रहा है.प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, सॉयल हेल्थ कार्ड, नीम कोटेड यूरिया,प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना,राष्ट्रीय कृषि बाजार (ई-नैम) और कृषि शिक्षा में पांचवी डीन कमेटी की सिफारिशों को लागू कर कृषि शिक्षा को रोजगार और युवाओं से जोड़ने आदि की पहल इसके बढ़िया उदाहरण हैं.

मालवीय ने बताया कि गांव व खेती के विकास के लिए इस वर्ष का बजट इस बात का गवाह है कि हमारी सरकार ने गांव,गरीब और किसान कल्याण को कितनी गंभीरता से लिया है.प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने बजट का एक बड़ा हिस्सा गांव,गरीब और किसानों के नाम कर दिया है.

मालवीय का कहना है कि सरकार चाहती है किसान गरीबी और निरक्षरता की दलदल से निकले. जब तक किसान निर्धन और निरक्षर रहेगा,उसकी स्थिति नहीं सुधरेगी.यही वजह है कि हम सिर्फ न्यूनतम समर्थन मूल्य के भरोसे नहीं बैठे हैं.हम कृषि कर्मियों के लिए कमाई के दूसरे रास्ते भी लगातार खोल रहे हैं. हमने संयुक्त दंपत्ति समूह,फार्मर प्रोड्यूसर आर्गेनाइजेशंस के गठन की रफ्तार तेज की है.कृषि की जगह हमने खेती- बाड़ी पर जोर दिया है.खेती के साथ बाड़ी भी. यानी खेती के साथ किसान फल-फूल-सब्जी,पशुपालन,मछली पालन,मुर्गी पालन,बकरी पालन, मधुमक्खी पालन,मेड़ पर पेड़ आदि भी अपनाए.कृषि को रोजगार का जरिया बनाए.किसान स्वावलंबी और शिक्षित बने.राष्ट्रीय किसान युवा मोर्चा कार्यकारणी सदस्य मालवीय का कहना है कि सरकार का युवाओ पर ज्यादा निगाह है.सरकार ने युवाओं को कृषि की तरफ प्रेरित करने के लिए युवा किसान समिति का गठन किया है,इसके माध्यम से देश के हर गांव में प्रशिक्षण शिविर लगाया जाएगा और नए नए तकनीक के माध्यम से आधुनिक कृषि करने का प्रशिक्षण दिया जाएगा.

मालवीय ने बताया कि राष्ट्रीय युवा किसान मोर्चा भाजपा देश भर में पांच सौ से ज्यादा युवा किसान संवाद का आयोजन करेगा,जिसकी शुरुआत दिल्ली, डीडवाना,मुरादाबाद,नोएडा और मैनपुरी से हो चुकी है.युवा किसान समिति जल्दी ही देश के प्रत्येक राज्य के पंचायत स्तर तक अपने कार्यक्रम करने जा रही है.























No comments:

Post a Comment

Post Top Ad