Breaking

Post Top Ad

31 Oct 2018

Buxar Top News: उस्ताद की धरती पर बिस्मिल्लाह खान संगीत एकेडमी का हुआ शुभारंभ ..

दिनकर  सम्मान प्राप्त साहित्यकार कुमार नयन ने बिस्मिल्लाह खान पर लिखी गई अपनी काव्य पुस्तक की रचना प्रस्तुत की, जिसे काफी सराहना मिली


- निर्धन एवं विकलांग छात्रों को मिलेगा निशुल्क नामांकन.

- प्रख्यात तबला वादक ने किया उद्घाटन, बिखेरा कला का जादू.


बक्सर टॉप न्यूज़, बक्सर: डुमरांव प्रखंड के हरी जी के हाता स्थित प्रवीण होम्यो कैंपस के सभागार में बिस्मिल्लाह खान संगीत एकेडमी का विधिवत उद्घाटन भारतरत्न उस्ताद बिस्मिल्लाह खान के कनिष्ठ पुत्र एवं यश भारती सम्मान प्राप्त तबला नवाज उस्ताद नाजिम हुसैन के हाथों संपन्न हुआ. 

सर्वप्रथम दीप प्रज्वलन के बाद सरस्वती वंदना अकैडमी की संचालिका कुमारी सुमन ने प्रस्तुत किया. बक्सर से आए मुख्य अतिथि के रूप में प्रख्यात गज़लगो एवं दिनकर  सम्मान प्राप्त साहित्यकार कुमार नयन ने बिस्मिल्लाह खान पर लिखी गई अपनी काव्य पुस्तक की रचना प्रस्तुत की, जिसे काफी सराहना मिली. स्वागत भाषण प्रवीण एमियो रिसर्च सेंटर के संस्थापक होम्योपैथ चिकित्सक एवं सेवानिवृत्त बैंककर्मी साहित्यकार डॉ बीएल प्रवीण ने किया. 

कार्यक्रम के संचालनकर्ता संगीत कर्मी अनुराग मिश्रा रहे. नाजिम हुसैन ने बिस्मिल्लाह खान के नाम पर स्थापित संगीत अकैडमी को लेकर प्रसन्नता व्यक्त की तथा इसकी सफलता के लिए शुभकामनाएं व्यक्त की. उन्होंने बताया कि भविष्य में जब भी आवश्यकता होगी, उनका सहयोग इस अकैडमी को मिलता रहेगा. उन्होंने तबला वादन का जादू बिखेर कर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया. 

कार्यक्रम में चंदन जी ने हारमोनियम पर अपना संगीत प्रस्तुत किया, जिस पर जोरदार तालियों से उनका स्वागत किया गया. मनोज जायसवाल ने भी अपने गीतों की प्रस्तुति की वहीं बिजली राम ने बांसुरी वादन से मनमोहक माहौल बना दिया. दशरथ विद्यार्थी ने डुमराँव संगीतज्ञ की चर्चा करते हुए बताया कि संगीत सीखने वाले कलाकारों की कमी नहीं है जिसे बिस्मिल्लाह खान एकेडमी पूरा करेगी. उन्होंने डॉ कुमारी सुमन को इसकी स्थापना के लिए बधाई दी. कार्यक्रम के दौरान अरविंद केसरी, धनजी, नंदिनी, शिल्पी सिंहा, राति पांडेय, राम जी सिंह, शेरगिल, छोटू उपाध्याय, कमलेश प्रसाद, सोम कुमार, अमृत गुप्ता, विक्रम जायसवाल, लकी राज, शंकर दयाल सिंह, विजय कुमार, संतोष कुमार पांडेय, ज्योति, दीक्षांत उपाध्याय, शैलेंद्र ओझा, आफताब आलम, गणेश प्रसाद, निहारिका आदि कई संगीत प्रेमी उपस्थित थे. कुमारी सुमन ने बताया कि इस संगीत एकेडमी में निर्धन और विकलांग छात्रों का नामांकन निशुल्क किया जाएगा.























No comments:

Post a Comment

Post Top Ad