Breaking

Post Top Ad

26 Oct 2018

Buxar Top News: वीडियो: हत्थे चढ़े चार अपराधी तो वीआईपी ट्रेनों को निशाना बनाने वाले गैंग का हुआ पर्दाफाश ..

आरपीएफ और जीआरपी थाना की पुलिस शुक्रवार की देर रात डुमरांव स्टेशन पर सिग्नल लाल करने वालों के खिलाफ गश्ती कर रही थी. इसी बीच पुलिस ने देखा कि चार लोग स्टेशन के पीछे कुछ बाते कर रहे हैं
देखें वीडियो:

- जमानिया से लेकर आरा के बीच देते थे वारदातों को अंजाम

- पुलिस ने दिखाई सख्ती उगल डाले सारे राज


बक्सर टॉप न्यूज़, बक्सर: रेल पुलिस ने शुक्रवार को एक बड़ी सफलता पाई है कई दिनों से रेल पुलिस के नाक में दम करने वाले अपराधियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी मिली है. यह सभी ट्रेनों में चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे. पुलिस ने सभी के पास से चोरी किया गया सामान बरामद भी किया है. 

मामले की जानकारी देते हुए जीआरपी थानाध्यक्ष कमलेश राय ने जीआरपी थाना परिसर में प्रेसवार्ता ने बताया कि आरपीएफ और जीआरपी थाना की पुलिस शुक्रवार की देर रात डुमरांव स्टेशन पर सिग्नल लाल करने वालों के खिलाफ गश्ती कर रही थी. इसी बीच पुलिस ने देखा कि चार लोग स्टेशन के पीछे कुछ बाते कर रहे हैं. पुलिस जब पास गयी तो चारों पुलिस को देखकर भागने लगे.  जिसके बाद पुलिस ने उनका पीछा कर उनमें से दो अपराधियों को पुलिस ने पकड़ लिया. वहीं दो अन्य अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे. 

फरार हुए अपराधियों को पुलिस ने फिर किया गिरफ्तार: 

पूछताछ में दोनों ने अपना नाम कृष्णाब्रह्म थाना क्षेत्र छतनवार का रहने वाला विद्यर्थी पासवान और शशिकांत पासवान बताया है. वहीं दो भागे साथियों का नाम चौगाईं के रहने वाला राजा महतो और बनहेरी गांव का रहने वाला अशोक चौधरी बताया है. दोनों भागे अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस ने छापेमारी की तो एक अपराधी राजा महतो को शहर के बाबा नगर से गिरफ्तार कर लिया गया. वही अशोक चौधरी को उसके गांव बनहेरी गांव से गिरफ्तार किया गया. 

पूरी इमानदारी से बाँटते थे चोरी का माल:

चारों के पास से चोरी के सात सामान और एक चाकू बरामद किया गया. चोरों ने बताया कि चारों साथी मिलकर ट्रेनों में चढ़कर यात्रियों का सामान चोरी करते है. जब किसी को सामान मिल जाता था. तब वह उतर जाते थे. इसके बाद सभी लोग अपने में सामानों का बराबर बंटवारा कर लेते है. थानाध्यक्ष ने बताया कि ट्रेन में चोरी करने वाले एक गैंग को पकड़ गया है. अन्य गैंग का भी पता चला है जिनको पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है. बहुत जल्द सभी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

आरा से जमनिया के बीच देते थे चोरी को अंजाम, डुमराँव में था बसेरा:

थानाध्यक्ष ने बताया कि गिरफ्तार चोर आरा से लेकर जमानियां के बीच ट्रेनों में चोरी की घटना को अंजाम देते थे. सभी चोर डुमरांव से कोई ट्रेन पकड़कर आरा चले जाते थे. उसके बाद सभी साथी आरा से कोई ट्रेन पकड़कर आते थे. जैसे ही कोई सामान मिल जाता. वह किसी स्टेशन पर उतर जाते थे. अगर आरा से जमानियां तक कोई सामान नहीं मिलता तो चोर जमानियां स्टेशन पर उतर जाते थे. इसके बाद वहा से कोई ट्रेन पकड़ कर डुमरांव के लिए आते थे.























No comments:

Post a Comment

Post Top Ad