Breaking

Post Top Ad

5 Oct 2018

Buxar Top News: दुर्गा पूजा में बेहतर व्यवस्था को लेकर जिलाधिकारी ने की बैठक ..



दुर्गा पूजा पंडाल हेतु अनुज्ञप्ति लेना अनिवार्य होगा. सभी पुराने पूजा समितियों को अनुज्ञप्ति अनुमंडल पदाधिकारी बक्सर निर्गत करेंगे. नया प्रस्ताव आने पर जिला पदाधिकारी स्वयं उसका अवलोकन करेंगे.

- राजनीतिक दलों के जिलाध्यक्षों  एवं विभिन्न पूजा समिति के प्रतिनिधियों ने अपनी बात रखी.

-  दुर्गा पूजा में अपना पूर्ण सार्थक सहयोग देने का आश्वासन दिया.


बक्सर टॉप न्यूज,बक्सर: सदर अनुमंडल के दुर्गा पूजा समितियां के प्रतिनिधियों एवं गणमान्य व्यक्तियों के साथ दुर्गा पूजा के संबंध में तैयारियों को लेकर एक बैठक जिला पदाधिकारी बक्सर राघवेंद्र सिंह की अध्यक्षता में समाहरणालय बक्सर के सभागार में 11:30 बजे पूर्वाह्न से आहूत की गई. बैठक में नगर परिषद अध्यक्षा श्रीमति माया देवी उपस्थित रही. बैठक बैठक में उपस्थित विभिन्न राजनीतिक दलों के जिला अध्यक्षों एवं विभिन्न पूजा समितियों के प्रतिनिधियों ने अपनी बात रखी.

राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने अपना पूरा सार्थक सहयोग दुर्गा पूजा में देने का आश्वासन दिया. पूजा समितियों के प्रतिनिधियों की प्रत्येक बातों को जिलाधिकारी ने गंभीरता से सुना. तत्पश्चात उन्होने निर्देश दिया कि बक्सर  अनुमंडल के अंतर्गत सभी थाना प्रभारी स्थानीय शांति समिति के साथ अविलंब बैठक कर लें. उन्होंने कहा कि दुर्गा पूजा पंडाल हेतु अनुज्ञप्ति लेना अनिवार्य होगा. सभी पुराने पूजा समितियों को अनुज्ञप्ति अनुमंडल पदाधिकारी बक्सर निर्गत करेंगे. नया प्रस्ताव आने पर जिला पदाधिकारी स्वयं उसका अवलोकन करेंगे. पूजा समितियों को अनुज्ञप्ति हेतु विहित प्रपत्र उपलब्ध कराया जाएगा.


आवेदन पत्र में पासपोर्ट साइज का फोटो लगाया जाना अनिवार्य होगा. पूजा समिति के अध्यक्ष एवं सचिव का हस्ताक्षर अनिवार्य होगा. पूजा समिति को अपनी तरफ से अपने कार्यकर्ता को पहचान पत्र उपलब्ध करवाने को भी निर्देश दिया गया. बड़े पंडाल वाले पूजा समिति को कार्यपालक अभियंता भवन से फिटनेस प्रमाण पत्र लेना होगा. पूजा के लिए बने पंडालों में विद्युत आपूर्ति हेतु अस्थाई कनेक्शन लेना अनिवार्य होगा. पंडालों में आपत्तिजनक राजनीतिक एवं अन्य विषयों पर बने कार्टूनों पर प्रतिबंध लागू रहेगा. डीजे पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा. शहर के जर्जर तारों को अविलंब बदलने का निर्देश जिलाधिकारी महोदय के द्वारा दिया गया. शहर में सड़कों पर पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था की जाएगी.  सड़क किनारे गड्ढे को भी भरा जाएगा.

विसर्जन हेतु 20 अक्टूबर शनिवार की तिथि निश्चित की गई. विसर्जन हेतु घाटों पर पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था की जाएगी. तथा दंडाधिकारी ओं समेत पुलिस बलों की पर्याप्त व्यवस्था की जाएगी. कुशल गोताखोर उपस्थित रहेंगे. इस दौरान नौका परिचालन पर पूर्णत: रोक रहेगी. दर्शनार्थियों के निर्बाध आवाजाही हेतु ट्रैफिक नियंत्रण की कारगर व्यवस्था की जाएगी. प्रशासनिक नियंत्रण कक्ष पूर्व वर्ष की भांति कार्यरत रहेगा. विधि व्यवस्था हेतु पूरे अनुमंडल में पर्याप्त संख्या में दंडाधिकारी के साथ पुलिस अधिकारी एवं पुलिस बल उपस्थित रहेंगे.

नियंत्रण कक्ष में फायर ब्रिगेड गाड़ी तैयार अवस्था में रहेगी. चिकित्सक के साथ एंबुलेंस की व्यवस्था सिविल सर्जन करेंगे. जिला पदाधिकारी ने पूजा समिति के प्रतिनिधियों को पूजा पंडालों में पोर्टेबल अग्निशमन यंत्र के साथ-साथ बाल्टी में बालू एवं पानी भरकर रखने की सलाह दी गई. बड़े पंडाल निर्माताओं से सीसीटीवी कैमरा लगवाने को भी कहा गया. ज्यादा भीड़ भाड़ वाले पंडालों में जगह के अनुसार महिला एवं पुरुषों को अलग-अलग आने जाने की व्यवस्था करने को कहा गया. ध्वनि विस्तारक यंत्रों का प्रयोग नियमानुसार होगा. बैठक में अनुमंडल पदाधिकारी कृष्ण कुमार उपाध्याय पुलिस  उपाधीक्षक सतीश कुमार मुख्यालय और बक्सर के सभी थाना प्रभारी के साथ विभिन्न राजनीतिक दलों के जिला अध्यक्ष पूजा समितियों के प्रतिनिधियों एवं गणमान्य व्यक्ति गण उपस्थित रहे.




















No comments:

Post a Comment

Post Top Ad