Breaking

Post Top Ad

7 Oct 2018

Buxar Top News: "आर्थिक हल युवाओं को बल" निश्चय की सफलता के लिए कल से लगाए जाएंगे जागरुकता शिविर ..



जिसके तहत अभियान चलाकर 8 अक्टूबर से 6 दिसंबर 2018 तक विद्यालय एवं महाविद्यालय स्तर पर रोस्टर के अनुसार काउंसलिंग की जाएगी

- सात निश्चय योजना, स्वयं सहायता भत्ता तथा कुशल योजना कार्यक्रम से युवाओं को जोड़ने की है पहल.

- तय की गयी है अधिकारियों की जवाबदेही.


बक्सर टॉप न्यूज़, बक्सर. मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तहत "आर्थिक हल युवाओं को बल" के तहत ज्यादा से ज्यादा युवाओं को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से आगामी 8 अक्टूबर से मुख्यमंत्री के सात निश्चय योजना एवं स्वयं सहायता भत्ता योजना तथा कुशल युवा कार्यक्रम का काउंसलिंग शुरू किया जा रहा है. जिसके तहत अभियान चलाकर 8 अक्टूबर से 6 दिसंबर 2018 तक विद्यालय एवं महाविद्यालय स्तर पर रोस्टर के अनुसार काउंसलिंग की जाएगी. जहां युवाओं को सरकार की  योजनाओं के बारे में जानकारी देकर योजनाओं का लाभ लेने को प्रेरित किया जाएगा.

व्यक्तिगत अनुश्रवण कर अनुमंडलाधिकारी करेंगे शिविरों का आयोजन:

इस बाबत जिलाधिकारी ने निर्देशित किया है कि संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी इस कार्यक्रम के नोडल पदाधिकारी होंगे. जो इस कार्यक्रम का व्यक्तिगत अनुश्रवण कर शिविर का आयोजन तथा इसमें लाभुकों की उपस्थिति संबंधित विभागों से समन्वय स्थापित करेंगे. इस दौरान संबंधित विद्यालय/महाविद्यालय के प्राचार्य प्रभारी भी कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगे। जिला पदाधिकारी के द्वारा प्राप्त निर्देशों के अनुसार संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी शिविर के आयोजन तथा इसमें लाभुकों की उपस्थिति सुनिश्चित कराने हेतु व्यक्तिगत रूप से उत्तरदायी होंगे. इस कार्य में प्रखंड स्तर पर अंचलाधिकारी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी प्रखंड, शिक्षा पदाधिकारी प्रखंड कल्याण पदाधिकारी, प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी, प्रखंड परियोजना प्रबंधक(जीविका) तथा निबंधन एवं परामर्श केंद्र के सहायक प्रबंधक भी शिविरों में युवाओं की उपस्थिति सुनिश्चित कराएंगे.

शिविरों में लाभुकों की संख्या कम होने पर प्रखंड विकास पदाधिकारी के विरुद्ध होगी कारवाई:

जिलाधिकारी ने अपने पत्र में स्पष्ट रूप से उल्लेख किया है कि जिस शिविर में योजना के पात्र लाभुकों की संख्या कम होगी उस प्रखंड के विकास पदाधिकारी इसके लिए व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार होंगे एवं उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी. सभी प्रखंडों के वरीय प्रभारी पदाधिकारी भी इस काउंसलिंग शिविर की समीक्षा करेंगे एवं स्वयं भी शिविर में भाग लेंगे उन्होंने बताया है कि शिविर में लाभुकों की अधिक से अधिक संख्या इसके लिए पंचायत स्तर पर मुखिया, वार्ड सदस्य, टोला सेवक, विकास मित्र, जीविका समूह, आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका, क्षेत्रीय समन्वयक सामुदायिक समन्वयक के माध्यम से प्रचार-प्रसार भी किया जाएगा.

जनप्रतिनिधि भी करें ज्यादा से ज्यादा प्रचार-प्रसार: 

काउंसलिंग के दौरान सभी कार्यक्रमों से संबंधित पंपलेट बैनर पोस्टर के माध्यम से लाभुकों को यह जानकारी दी जाएगी कि जिला निबंधन एवं परामर्श केंद्र पर निशुल्क आवेदन देने की व्यवस्था की गई है. जहां पर कोई भी व्यक्ति अपना आवेदन दे सकता है. जिलाधिकारी काउंसलिंग कार्य हेतु गठित टीम को हर शिविर में कम से कम 100 अभ्यर्थियों का आवेदन प्राप्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया है. उन्होंने यह भी स्पष्ट किया है इस लक्ष्य को प्राप्त नहीं करने वाली टीम के विरुद्ध भी नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी. जिलाधिकारी ने यह भी स्पष्ट किया है कि प्रखंड में बनाई गई जनप्रतिनिधि तथा ग्रामीणों को योजना की अधिक से अधिक जानकारी प्रदान करेगी. ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग योजनाओं का लाभ ले सके.




















No comments:

Post a Comment

Post Top Ad