Breaking

Post Top Ad

17 Oct 2018

Buxar Top News: अनेकता में एकता की मिसाल: यहाँ रामलीला में मुस्लिम करते हैं हिन्दू देवी-देवताओं का अभिनय



पूर्व सैनिक संघ के अध्यक्ष ने कहा कि इस तरह के आयोजन से उन लोगों को सीख लेने की आवशयकता है, जो भारत माता की जय को भी धर्म से जोड़ते हैं. 
- सदर प्रखंड के उमरपुर में आयोजित होता है कार्यक्रम.
- सप्तमी को हुआ विधिवत उद्घाटन, गणमान्य अथिति रहे उपस्थित.

बक्सर टॉप न्यूज़, बक्सर: सदर प्रखंड के उमर पुर पंचायत  के नाट गोला में दुर्गा पूजा का आयोजन सन 1965 से श्रद्धा पूर्वक होता आ रहा है.  पूजा समिति के द्वारा किया जाने वाला रामलीला का यह आयोजन हिन्दू-मुस्लिम एकता की मिसाल कायम करता है. समिति के उपाध्यक्ष पूर्व फौजी जुमराती अहमद बताते हैं कि रामलीला के पात्रों में अधिक संख्या में मुसलमान लड़के हैं. जो राम, रावण और सीता के चरित्र को मंचित करते हैं. मुख्य पात्रों की भूमिका में मुमताज खान, आशीष राय, मोहम्द धन्ना खान, नीतीश राय, बिट्टू खान गुड्डू राय, खुर्शीद खान, रामबलि राम, नौशाद खान, बृज बिहारी ठाकुर, सुग्गा अंसारी, मोहम्मद जाकिर हुसैन हैं.

इसकी शुरुआत सप्तमी को तथा समापन विजयादशमी को होता है. इस वर्ष भी यह आयोजन पूरी श्रद्धा और भक्ति भाव से किया जा रहा है. जिसका उद्धघाटन बिहार राज्य पूर्व सैनिक संघ के अध्यक्ष राम नाथ सिंह, पंचायत के मुखिया ललक राय तथा पूर्व प्रमुख मटरू राय ने संयुक्त रूप से फीता काट कर किया. इस दौरान अपने वक्तव्य में पूर्व सैनिक संघ के अध्यक्ष ने कहा कि इस तरह के आयोजन से उन लोगों को सीख लेने की आवशयकता है, जो भारत माता की जय को भी धर्म से जोड़ते हैं. उन्होंने कहा कि यहां जिस तरह से मुस्लिम ग्रामीण हिन्दू त्योहार और हिन्दू ग्रामीण मुस्लिम त्योहार को हंसी-ख़ुशी से एक दूसरे लोगों के साथ मानते हैं.यह एक अतुलनीय उदाहरण है.

मौके पर पूजा समिति के अध्यक्ष बच्चा राय, सचिव ओमप्रकाश राय, तथा राम लीला समिति के निर्देशक राम जी राय, मुख्य सदस्य बृज बिहारी ठाकुर, पिंटू प्रजापति, मुन्ना शर्मा, दिनेश रजक, मुन्ना राय,  राम राज सिंह, शैलेश ठाकुर, एस के सिंह, शिवमंगल सिंह, दया शंकर यादव, महेश प्रसाद समेत सैकड़ों ग्रामीण मौजूद रहे।




















No comments:

Post a Comment

Post Top Ad