Breaking

Post Top Ad

5 Oct 2018

Buxar Top News: समीक्षा बैठक में बोले जिलाधिकारी, स्वास्थ्य सेवाओं में कोताही बर्दाश्त नहीं ..



जिले में अभी तक की स्वास्थ्य व्यवस्थाओं से जिला पदाधिकारी नाखुश दिखे.  उनके द्वारा निशुल्क टीकाकरण योजना की सघन समीक्षा की गई.उन्होंने ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि टीकाकरण योजना में किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. 

- मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी समेत स्वास्थ्य कर्मियों को दिए स्पष्ट निर्देश.

- मरीजों को खाना खिलाना जीविका के जिम्मे.


बक्सर टॉप न्यूज़, बाक्सर: स्वास्थ्य विभाग की मासिक समीक्षात्मक बैठक जिला पदाधिकारी राघवेंद्र सिंह की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में की गयी. बैठक में जिले में उपलब्ध करवाई जा रही स्वास्थ सुविधाओं के विषय में विस्तृत रूप से समीक्षा की गई.

इस दौरान सिविल सर्जन द्वारा बताया गया कि जिला के सरकारी अस्पतालों में सितंबर माह में कुल 2258 प्रसव हुए. संस्थागत प्रसवों की कम संख्या पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए इसमें बढ़ोतरी हेतु सभी संभव प्रयास करने का निर्देश दिया. 


जिला पदाधिकारी ने कहा कि प्रसूति महिलाओं को निशुल्क एंबुलेंस सेवा उपलब्ध कराया जाना है. इसके अलावा अन्य लोगों को भी सरकारी एंबुलेंस सेवा उपलब्ध कराने हेतु एंबुलेंस चालकों का मोबाइल नंबर सार्वजनिक करने का निर्देश जिला पदाधिकारी ने दिया. जिले में अभी तक की स्वास्थ्य व्यवस्थाओं से जिला पदाधिकारी नाखुश दिखे.  उनके द्वारा निशुल्क टीकाकरण योजना की सघन समीक्षा की गई.उन्होंने ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि टीकाकरण योजना में किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. बैठक में सिविल सर्जन ने जानकारी दी की मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना टीकाकरण के अंतर्गत लाभार्थियों की कुल संख्या 1095 है.



जिला पदाधिकारी द्वारा सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में मरीजों को खाना खिलाए जाने की स्थिति की समीक्षा की गई. समीक्षा परान पाया गया कि स्थिति संतोषजनक नहीं है इसलिए प्रयोग के तौर पर जीविका के जरिए खाना उपलब्ध करवाने की व्यवस्था सुनिश्चित करवाने का निर्देश जिलाधिकारी महोदय के द्वारा दिया गया प्रयोग सफल होने पर निविदा में जीविका को प्राथमिकता देते हुए कार्य आवंटित किया जाएगा अंत में जिला पदाधिकारी महोदय ने कहा कि आम जनों को उच्च स्तरीय स्वास्थ सुविधा उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता में है.




















No comments:

Post a Comment

Post Top Ad