Breaking

Post Top Ad

1 Jun 2018

Buxar Top News: वीडियो: बढ़ते अपराध के विरुद्ध बक्सर के बेटे को मिला जनमानस का अभूतपूर्व समर्थन, ऐतिहासिक रहा बक्सर बंद ..



एसपी राकेश कुमार को बक्सर में आए 10 माह बीत चुके 10 माह में 40 हत्या लूट जैसे संगीन आपराधिक मामला दर्ज हुए, लेकिन सही रूप से किसी मामला बक्सर पुलिस सही रूप उद्भेदन नहीं किया.   वही विधायक ने आरोप लगाया कि बक्सर एसपी अपने मातहतों के माध्यम से अवैध रूप से दारू  और बालू की कालाबाजारी करा रहे है. 

देखिए वीडियो:
-  अपराध मुक्त बक्सर के संकल्प के साथ स्वयं सड़कों पर उतरे सदर विधायक.
- स्वत स्फूर्त बंद हो गई दुकानें शाम तक नहीं खुली.
- बोले विधायक, जनमानस को नहीं मिल पा रही है सुरक्षा की गारंटी. पत्रकारों को दी जा रही है धमकी.


बक्सर टॉप न्यूज़, बक्सर: जिले में ताबड़तोड़ हो रही अपराधिक घटनाओं एवं अराजकता पर  लगाम लगाने में विफल  बक्सर पुलिस  के विरोध में  सदर विधायक के आह्वान पर बढ़ते किया गया बक्सर बांध अपने आप में अभूतपूर्व रहा अपराध से त्रस्त बक्सर की जनता ने स्वेच्छा से सदर विधायक के समर्थन में अपनी दुकानें सुबह से ही बंद कर दी थी. हालांकि, बक्सर बंद दिन में 10:00 बजे से शाम 4:00 बजे तक ही करना था. लेकिन व्यवसाइयों ने देर शाम तक अपनी दुकान नहीं खोली. वहीं सदर विधायक के निर्देश पर आवश्यक सेवाओं को बंद से दूर रखा गया. साथ ही साथ कहीं भी सड़क जाम अथवा किसी भी तरह की हिंसक घटना की सूचना नहीं थी. बंद के दौरान व्यवसायी अपनी अपनी दुकानें बंद कर सदर विधायक के साथ सड़कों पर नारे लगाते देखे गए. ऐसा लग रहा था मानो बक्सर पुलिस लोगों का भरोसा ही उठ गया हो. सदर विधायक के साथ-साथ लोक प्रशासन विरोधी नारे लगाते हुए चल रहे थे. एक स्वर में सभी बक्सर के भ्रष्ट पुलिस अधीक्षक को हटाए जाने की मांग पर डटे हुए थे. आम लोगों के साथ विधायक ने भगत सिंह पार्क से होते हुए रेलवे स्टेशन तथा पुनः जमुना चौक होते हुए भगत सिंह पार्क तक पैदल पदयात्रा की.

बताते चलें कि बक्सर में बढ़ती अपराधिक घटनाओं को लेकर सदर विधायक संजय कुमार तिवारी उर्फ मुन्ना तिवारी ने एक दिवसीय बक्सर बंद का आवाहन किया था. 

नगर में हर तरफ बंद का व्यापक असर बक्सर बाजार में देखने को मिला.  व्यवसायियों ने खुलकर विधायक का समर्थन किया और बक्सर बाजार बंद कर दिया. विधायक का आरोप है कि बक्सर एसपी राकेश कुमार से बढ़ती अपराधिक घटनाओं पर नियंत्रण नहीं हो पा रहा है. एसपी राकेश कुमार को बक्सर में आए 10 माह बीत चुके 10 माह में 40 हत्या लूट जैसे संगीन आपराधिक मामला दर्ज हुए, लेकिन सही रूप से किसी मामला बक्सर पुलिस सही रूप उद्भेदन नहीं किया.

   वही विधायक ने आरोप लगाया कि बक्सर एसपी अपने मातहतों के माध्यम से अवैध रूप से दारू  और बालू की कालाबाजारी करा रहे है. दूसरी तरफ बंद को देखते हुए बक्सर प्रशासन ने पूरी तैयारियां कर रखी थी. चाक चौबंद-व्यवस्था कर हाई अलर्ट पर पूरे शहर में 15 मजिस्ट्रेटों के अलावे भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया.  बक्सर बंद का  खुद मॉनिटरिंग बक्सर एसडीएएम कृष्ण कुमार उपाध्याय और डीएसपी मुख्यालय आर के गुप्ता कर रहे थे. बक्सर एसडीएम ने बताया कि बंद को देखते हुए पर्याप्त मात्रा में मजिस्ट्रेट और पुलिस बल तैनात किया गया है ताकि कोई अप्रिय घटना ना हो. 

हालांकि बंद अपने निर्धारित समय पर बिल्कुल शांतिपूर्ण तरीके से समाप्त हुआ. जिसके बाद सदर विधायक ने स्थानीय भगत सिंह पार्क में बक्सर के लोगों का आभार व्यक्त करते हुए आभार सभा का आयोजन किया.

उन्होंने जनमानस से मिले अपार जनसमर्थन के कारण सफल रहे बक्सर बंद के लिए लोगों को धन्यवाद दिया. साथ ही उन्होंने कहा कि इस प्रकार का एसपी जो जनमानस को सुरक्षा का माहौल नहीं दे सके. जो पत्रकारों को धमकी दे ऐसे भ्रष्ट SP का बने रहना जनहित में नहीं है. उन्होंने कहा बक्सर SP के हटाए जाने तक नियमित रूप से अलग-अलग आंदोलन कर विरोध प्रदर्शन जारी रखा जाएगा.

आमसभा को समाजसेवी कुंवर विजय सिंह उर्फ पप्पूजी, सत्य नारायण दूबे, गोपाल त्रिवेदी, मिथिलेश कुमार सिंह दिलीप वर्मा, विभोर चतुर्वेदी, टी एन चौबे, डॉ.मनोज पांडेय, डॉ.उमाशंकर पांडेय, स्नेहाशीष व‌र्द्धन पांडेय, कत्ल सिंह, पुतुल चौबे, अनिल त्रिवेदी, प्रमोद ओझा, निसार अहमद, वैजनाथ सर्राफ, अशोक सर्राफ, सौरभ तिवारी, रामजी सिंह, अनिल उपाध्याय, सत्यदेव प्रसाद, वसीम खां, मुरारी मिश्रा, रिंकू यादव, कमलेश पाल, चक्रवर्ती चौधरी, रोहित उपाध्याय, अशोक पांडेय, विजय मिश्रा, रवि सिन्हा समेत अन्य लोगों ने संबोधित किया.

















No comments:

Post a Comment

Post Top Ad